Test Tube Baby Kya hai Aur Kaise Hota hai Jankari Hindi me

दोस्तों आज कल हम सब बहुत सुनते हैं Test tube baby (टेस्ट ट्यूब बेबी) के बारे में,  यह आजकल बहुत प्रचलित है। इस प्रोसेस को लेबोरेटरी में आदमी के शुक्राणु को औरत के अंडों को मिक्स किया जाता है। इस प्रक्रिया को फर्टिलाइजेशन कहते हैं, और फिर एमब्रीओस बनते हैं। जिसे कुछ दिनों बाद औरत के यूट्रस में वापस डाल दिया जाता है।

जिन महिलाओं में बच्चों वाले अंडे नहीं बनते हैं, या फिर छोटे होते हैं, या फिर पुरुषों में शुक्राणु कमजोर होते हैं, या फिर कम बनते हैं. जिसके वजह से निसंतानता देखी जाती है। यह आजकल के खानपान और जीने की लाइफ स्टाइल के कारण भी होता है. इसमें प्रदूषण और अशुद्ध  खानपान का भी बहुत ज्यादा असर करते हैं।

टेस्ट ट्यूब बेबी निसंतानता के लिए रामबाण इलाज कहा जाता है, तो आज हम जानेंगे कि टेस्ट ट्यूब बेबी क्या होता है। जैसा कि नाम से ही आपको समझ में आ गया होगा कि बच्चे को गर्भ के बाहर बनाने की प्रक्रिया को टेस्ट ट्यूब बेबी कहा जाता है, और इस प्रक्रिया को  IVF कहते है।

Test Tube Baby क्या है?

आईवीएफ क्या होता है आईवीएफ का मतलब होता है  Invitro Fertilization इनविट्रो फर्टिलाइजेशन होता है।

Process for testube baby (IVF Process) टेस्ट ट्यूब बेबी कैसे होता है

  1. जब औरत का पीरियड्स चालू होता है, तो उसके एक या दो दिन बाद से उस औरत को 10-12  इंजेक्शन दिए जाते हैं . रोज एक इंजेक्शन।
  2. यह इसलिए किया जाता है, ताकि औरत के अंदर अंडों की मात्रा बढ़ाई जा सके।
  3. 10-12 दिन बाद एक मामूली सा एनेस्थीसिया देकर उन अंडों को बाहर निकाल लिया जाता है, उसी दिन आदमी का भी शुक्राणु लिया जाता है।
  4. अंडों और शुक्राणु को  लेबोरेटरी के अंदर मिक्स किया जाता है. मशीन में मिक्स करके इनको इनक्यूबेटर में 2 से 5 दिन के लिए रख दिया जाता है।
  5. फिर 2/3/4/5  दिन बाद इसे महिला के गर्भ में डाल दिया जाता है।
  6. दो हफ्तों में पता चलता है, की वह औरत प्रेग्नेंट हुई है या नहीं।
  7. इसका सक्सेस रेट बहुत ज्यादा है, इसीलिए ज्यादातर  मामलों में औरतें गर्भ धारण कर लेती हैं।

Cost for test tube baby (टेस्ट ट्यूब बेबी में कितने पैसे लगते हैं)

दोस्तों जब स्टार्टिंग में टेस्ट ट्यूब बेबी प्रोसेस स्टार्ट हुआ था, तब इसकी कीमत बहुत ही ज्यादा थी. तब इसे सिर्फ अमीर लोग ही कर पाते थे, पर अब यह पहले की अपेक्षा काफी सस्ता हो चुका है. हम खर्चे को दो भाग में देखेंगे.

डॉक्टर की फीस

दोस्तों साधारण  तौर पर देखा जाए तो डॉक्टर की फीस 20 से 25000 हो जाती है. यह अलग-अलग हॉस्पिटल के डॉक्टर के हिसाब से ऊपर नीचे हो सकता है. 25000 मान कर चलते हैं, इसके अंदर डॉक्टर के परामर्श शुल्क हैं, इसके अलावा जो दंपत्ति के टेस्ट होने हैं उनका खर्चा है, इसके अलावा नर्सिंग फीस, गायनाकोलॉजिस्ट ,  अल्ट्रासाउंड, सोनोग्राफी, ऑपरेशन थिएटर का खर्चा शामिल है।

दवाइयों का खर्चा

टेस्ट ट्यूब बेबी का जो मेन खर्चा होता है, वह दवाइयों पर और इंजेक्शन का ही होता है. इस प्रोसेस में तीन तरह के इंजेक्शन दिए जाते हैं।

Urinary gonadotropins

जिन महिलाओं की माहवारी बंद हो जाती है, उनके यूरिन से इस इंजेक्शन का निर्माण किया जाता है इसमें 25,000 तक का खर्च होता है।

Highly purified

इसे भी महिला के यूरिन से ही निर्माण किया जाता है, पर इसमें इंप्योरिटी एक परसेंट होती है. और इसका खर्च लगभग 40,000 के पास जाता है।

Recombinant

यह बिल्कुल नई तकनीक है, इस तकनीक में DNA का इस्तेमाल करके इंजेक्शन बनाया जाता है. जिसका खर्च लगभग 80 से ₹90000 तक होता है. और इसमें किसी भी तरह की इंप्योरिटी नहीं होती, और अंडों की अच्छी ग्रोथ होती है. अच्छे अंडे बनते हैं, जिसमें  बच्चे बनने की क्षमता अधिक होती है।

तो अगर  संपूर्ण खर्चे की बात की जाए तो लगभग 1,25,000 से 1,50,000 रुपए में आप टेस्ट ट्यूब बेबी प्रोसेस कर सकते हैं।

Also Read :- Oats Kya Hai Aur Oats Khane Ke Fayde Hindi Me

Why IVF (Test tube baby)

दोस्तों IVF याने टेस्ट ट्यूब बेबी उन लोगों के लिए बहुत ही अच्छा है, जो नॉर्मली बच्चे पैदा नहीं कर सकते. इस प्रक्रिया में होने वाले बच्चे के अंदर मां और बाप के ही गुण पाए जाएंगे क्योंकि यह पूरी तरह उनके ही डीएनए और गर्भ से पैदा होता है।

सुझाव

अगर आप टेस्ट ट्यूब बेबी करवाना चाहते हैं, तो जिस किसी भी अस्पताल से करवाए उसका स्टेटस एक बार जरूर चेक करले

और डॉक्टर से इसके बारे में पूरी जानकारी जरूर ले।

आशा करते हैं, कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आप के काम आए।

Leave a Comment

Your email address will not be published.